Haryana21.com Present

     
Jind News - Jind Update

 

 

एक और आधुनिक पुलिस प्रशिक्षण केन्द्र जींद में खोला जाएगा

 
 
June 11, 2012

हरियाणा पुलिस महानिदेशक श्री रंजीव दलाल ने कहा है कि हरियाणा सरकार द्वारा शीघ्र ही एक और आधुनिक पुलिस प्रशिक्षण केन्द्र जींद में खोला जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य के दूसरे जिलों में भी हरियाणा पुलिस अकदमी के अलावा पुलिस ट्रेनिग व अनुसंधान केन्द्र भोंढसी(गुड़गांव) पुलिस प्रशिक्षण महाविद्यालय सुनारिया(रोहतक) तथा हिसार में पुलिस प्रशिक्षण केन्द्र खोला गया है। उन्होंने यह जानकारी आज हिसार में दी। उन्होंने आज ही हिसार में आयोजित रैकरूट ड्राईवर्ज के पहले बैच की दीक्षांत परेड का निरीक्षण किया और सलामी भी ली।  उन्होंने कहा कि हरियाणा पुलिस राज्य में चल रही सभी गैर सरकारी संस्थाओं की कार्य प्रणालियों पर पैनी नजर रखे हुए है। उन्होंने कहा कि हमें शीघ्र ही इस तरह की सभी संस्थाओं के नियमों में बदलाव करना होगा और इन्हें सरकार के प्रति उत्तरदायी बनाना । आजकल इस तरह की संस्थाओं में भ्रष्टाचार होना आम रवैया बनता जा रहा है, जिसके लिए जरूरी है कि इन पर नकेल कसी जाए।  श्री दलाल ने कहा कि पुलिस विभाग की पूरी कौशिश होती है कि अपराध की जांच हर पहलू से निष्पक्ष हो और कसूरवार को सजा मिले। हमारा प्रयास होता है कि वारदात होने के तुरन्त बाद पुलिस मौके पर पहंुचे और क्राइम सीन को सबूत मिटने से पहले अपने काबू में कर ले। इसके लिए हमने राज्य के प्रत्येक पुलिस कर्मी को फोटोग्राफी व जांच से जुड़ी दूसरी तकनीकों का प्रशिक्षण दिलाने के व्यापक प्रबंध किये हुए हैं। इसके लिए हरियाणा पुलिस अकादमी मधुबन में सरकार द्वारा डेढ करोड़ रुपये की लागत से मल्टीमीडिया लैब स्थापित की गई है।  श्री दलाल ने कहा कि जहां तक सूचना प्रौद्योगिकी का प्रश्न है, उसमें हरियाणा पुलिस आज देश में पहला स्थान रखती है। हरियाणा देश का पहला राज्य है, जिसने थानों से लेकर रेंज मुख्यालयों तक व रेंज मुख्यालयों से पुलिस मुख्यालय तक को आपस में स्टेट वाईड ऐरिया, नेटवर्क (स्वान)पद्धति से जोड़ा हुआ है। इसके अलावा हरियाणा पुलिस में वीडियो कॉन्फ्रंेसिंग के जरिये जिला के पुलिस कप्तानों से समय-समय पर बातचीत करते रहना एक परम्परा सी बन गई है। ऐसा करने से पुलिस मुख्यालय और क्षेत्रीय पुलिस के बीच सुन्दर तालमेल तो बनता ही है, साथ ही दोनों के बीच सूचनाओं का आदान-प्रदान न केवल पहले से अधिक तेज गति से होने लगा है, बल्कि इसके अच्छे परिणाम भी सामने आ रहे हैं।  उन्होंने कहा कि हरियाणा पुलिस अपने कर्मियों को अच्छी आवासीय सुविधा मुहैया करवाने के लिए प्रयत्नशील है। हरियाणा सरकार ने 300 करोड़ रुपये का कर्ज हरियाणा पुलिस को दिया है, जिसमें पलवल, मेवात, हिसार तथा कैथल जिलों में पुलिस कर्मियों के लिए आधुनिक मकान बनाकर दिये जाएंगे। इसके अतिरिक्त हरियाणा सरकार द्वारा 75 करोड़ रुपये व्यय करके एनसीआर गुड़गांव में 500 मकान बनाये जा रहे हैं।  श्री दलाल ने कहा कि जिस गति से हमारा प्रदेश तरक्की कर रहा है, उसको देखते हुए पुलिस विभाग की चुनौतियां भी हमारे सामने दस्तक दे रही हैं। तेजी से हो रहे विकास और बढ रही आबादी को देखते हुए आज पुलिस का काम पहले से कहीं ज्यादा बढ गया है। इसके लिए आवश्यक है कि हम बदलते हुए समय के साथ राज्य में कानून व्यवस्था को बनाये रखने के लिए नई तकनीकों को अपनाएं। इसके अतिरिक्त जो अपेक्षा एक पुलिस कर्मी के प्रति आम नागरिक की है, उस पर भी हम खरा उतरने की कौशिश करते रहें।  श्री दलाल ने कहा कि आज हमारा देश बेवजह के आंतरिक मुद्दों से घिरा हुआ है, जिससे हमारा प्रदेश भी अछूता नहीं है। छोटी-छोटी बात को लेकर आए दिन का धरना प्रदर्शन या फिर सड़क यातायात को जाम करना एक आम रवैया बनता जा रहा है। लोगांे को चाहिए कि वे राष्ट्रवादी बनें और छोटी-छोटी बातों में स्वयं और पुलिस को आपस में ना उलझाएं। आज हमारा समाज झूठ के दौर से भी गुजर रहा है, जिस कारण आए दिन थानों में दर्ज शिकायतों में बेकसूर लोगों के नाम लिखवाकर पुलिस को गुमराह करना  व उलझाना एक रिवाज बन गया है।  श्री दलाल ने उक्त पुलिस प्रशिक्षण सत्र की अंतिम परीक्षा में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले रैकरूट सिपाही संदीप सिंह को एक लैपटॉप व प्रथम श्रेणी का प्रशंसा पत्र, दूसरा स्थान पाने वाले राकेश को डिजिटल हैंडिकैंप व प्रथम श्रेणी का प्रशंसा पत्र तथा तीसरा स्थान प्राप्त करने वाले रैकरूट प्रवीण को डिजिटल कैमरा व प्रथम श्रेणी का प्रशंसा पत्र देकर सम्मानित किया।  श्री दलाल ने पासिंग आऊट के परेड कमाण्डर हरदीप सिंह को भी डिजिटल कैमरा व प्रथम श्रेणी का प्रशंसा पत्र देकर सम्मानित किया। 

 
 


 

 

 

 

 

 

 

Copyright 2011-2020 - Classic Computers.