Haryana21.com Present

     
Jind News - Jind Update

 

 

जींद की सभी विधानसभा सीटों पर कांग्रेस पार्टी विजय दर्ज करेगी -श्री रणदीप सिंह सुरजेवाला

 
 
December 6, 2011

चण्डीगढ़-हरियाणा के लोक निर्माण एवं उद्योग मंत्री श्री रणदीप सिंह सुरजेवाला ने दावा किया कि आगामी विधानसभा चुनावों में कैथल जिला के अतिरिक्त जींद की सभी विधानसभा सीटों पर कांग्रेस पार्टी विजय दर्ज करेगी और प्रदेश में लगातार तीसरी बार कांग्रेस पार्टी की सरकार का गठन होगा।यह जानकारी हरियाणा के लोक निर्माण एवं उद्योग मंत्री श्री रणदीप सिंह सुरजेवाला ने गांव क्योडक़ में प्रजापति चौपाल तथा सर्व शिक्षा अभियान के तहत राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में लगभग 20 लाख रुपए की लागत से नवनिर्मित सात कमरों के उद्घाटन के पश्चात पंचायत भवन में आयोजित जन सभा को संबोधित करते हुए दी।उन्होंने कहा कि वर्तमान कलायत तथा गुहला क्षेत्र से इनेलो के विधायक ने चौटाला के डर से टो-वाल के निर्माण का समर्थन नही किया, बल्कि इनैलो के नेताओं ने तो पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के साथ मिलकर टो-वाल के निर्माण को रूकवाने में उच्चतम न्यायालय में भी मुकदमा दायर किया है। श्री सुरजेवाला ने कहा कि वर्तमान सरकार ने उच्चतम न्यायालय में अपने पक्ष को बेहत्तर तरीके से प्रस्तुत करके उच्चतम न्यायालय से भी टो-वाल निर्माण की स्वीकृति प्राप्त करके टो-वाल का निर्माण कार्य पूरा कर लिया गया है।उन्होंने कहा कि क्योडक़ एक ऐतिहासिक गांव रहा है और यहां के लोगों ने संघर्षशील एवं काम के प्रति समर्पित नेताओं का हमेशा साथ दिया है। क्योडक़ गांव में विभिन्न वर्गों की चौपालों, गलियों तथा पहुंच मार्गों के निर्माण व मुर मत के लिए लगभग तीन करोड़ रुपए की धनराशि खर्च की जाएगी।लोक निर्माण मंत्री ने कैथल हलका के सात दिवसीय दौरा कार्यक्रम के दूसरे दिन ग्योंग, कठवाड़, क्योडक़, बलवंती, जसवंती तथा नौच गांवों में विकास कार्यों की समीक्षा की तथा लोगों की समस्याएं भी सुनी। उन्होंने जन सभाओं को संबोधित करते हुए कहा कि आज बाबा साहेब भीम राव अंबेदकर जी का निर्वाण दिवस है और उनका एक स्वप्न था कि दलित, गरीब तथा वंचित वर्ग के बच्चों को जब तक बेहत्तर शिक्षा के अवसर प्राप्त नही होंगे तब तक वे अपना भविष्य उज्ज्वल नही बना पाएंगे। उन्होंने कहा कि जिला वासियों को बेहत्तर शिक्षा उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से जगदीशपुरा गांव में डा. भीमराव अंबदेकर राजकीय महाविद्यालय का 14 करोड़ रुपए की धनराशि से निर्माण किया गया है, जिसमें व्यवसायिक कोर्सों को प्राथमिकता दी गई है, ताकि शिक्षा प्राप्त करने बाद वे स्वयं का रोजगार शुरू कर सकें। उन्होंने कहा कि तीन महीनों में इस कालेज को शुरू कर दिया जाएगा। इस कालेज भवन में कक्षाएं लगनी शुरू हो चुकी हैं। उद्योग मंत्री नेे कहा कि जिला वासियों की मांग को पूरा करते हुए शेरगढ़ गांव में लगभग 15 करोड़ रुपए की लागत से भगवान परशुराम राजकीय पोलीटैक्रिक का निर्माण भी डेढ़ वर्ष की अंदर पूरा कर लिया जाएगा। इसी तरह गढ़ी पाड़ला में ड्राईवरों को प्रशिक्षण देने के लिए अशोक ले लैंड कंपनी के सहयोग से ड्राईविंग प्रशिक्षण स्कूल का निर्माण भी अंतिम चरण में है। उन्होंने कहा कि प्रजापति चौपाल के निर्माण पर दो लाख सात हजार रुपए खर्च किए हैं तथा इस चौपाल के आंगन में पेवर ब्लाक, शौचालय आदि कार्यों के लिए एक लाख 40 हजार रुपए और उपलब्ध करवाए जाएंगे। लोक निर्माण मंंत्री ने कहा कि गांव क्योडक़ को जोडऩे वाले विभिन्न मार्गों के निर्माण एवं मुर मत पर लगभग डेढ़ करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। क्योडक़-बरोट रोड से कैथल-पेहवा मुख्य मार्ग तक जोडऩे वाले छ: किलोमीटर लंबे पहुंच मार्ग के निर्माण के लिए 23 लाख रुपए भी दिए जाएंगे। इसके साथ-साथ क्योडक़-बरोट से डेरा चांदीपुरा तक पहुंच मार्ग के निर्माण के लिए भी 33 लाख 85 हजार रुपए दिए जाएंगे। इसी प्रकार क्योडक़-बेगपुर रोड की मुर मत के लिए 10 लाख 40 हजार रुपए की धनराशि खर्च की जाएगी।उन्होंने कहा कि क्योडक़-टीक रोड फीरनी के शेष हिस्से के निर्माण के लिए लगभग 42 लाख रुपए तथा 4.22 किलोमीटर लंबी क्योडक़-टीक सडक़ के पुनर्निर्माण के लिए 50 लाख रुपए की धनराशि दी जाएगी। इसी प्रकार क्योडक़ से कठवाड़ रोड के निर्माण के लिए 29 लाख रुपए भी उपलब्ध करवाए जाएंगे। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि कैथल जिला को बाढ़ से बचाने के लिए डेढ़ साल के अंदर-अंदर सभी आवश्यक प्रबंध पूरे कर लिए गए हैं। हांसी-बुटाना लिंक नहर पर क्योडक़ के नजदीक डे्रन पर एक अतिरिक्त साईफन का दो करोड़ रुपए की लागत से निर्माण किया गया है। उन्होंने कहा कि हांसी-बुटाना लिंक नहर तथा घग्गर नदी के बीच में टो-वाल के निर्माण पर 10 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं। उन्होंने कहा कि इसी प्रकार सरस्वती नदी पर नौच गांव के पास पांच करोड़ रुपए की लागत से साईफन का निर्माण करने के साथ-साथ ड्रेन को भी 85 फुट तक चौड़ा किया गया है, ताकि बाढ़ जैसी स्थिति में ज्यादा पानी डे्रन के माध्यम से निकल सके। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री चौधरी भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कैथल जिला को भविष्य में बाढ़ की विभिषिका से बचाने के लिए टो-वाल के निर्माण की मंजूरी देकर जिला वासियों को विशेष तोहफा दिया है।श्री सुरजेवाला ने कहा कि गांव में स्थित विद्यालयों में 33 लाख 23 हजार रुपए की धनराशि से कमरो का निर्माण करवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि क्योडक़ की प्राथमिक विद्यालय के भवन के लिए साढ़े सात लाख रुपए तथा वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में लगभग साढ़े 15 लाख रुपए की लागत से चार कमरो का निर्माण किया जाएगा, जिसमें एक कंप्यूटर रूम, विज्ञान रूम, प्रयोगशाला तथा आर्ट एंड क्रा ट शामिल हैं। इसी प्रकार गांव के मॉडल स्कूल में दो कमरों के निर्माण के लिए भी नौ लाख रुपए उपलब्ध करवाए जाएंगे। उन्होंने गांव की विभिन्न वर्गों की 16 चौपालों के लिए लगभग 27 लाख रुपए की धनराशि उपलब्ध करवाने की घोषणा भी की।इससे पूर्व लोक निर्माण मंत्री ने गांव ग्योंग में विभिन्न विकास कार्यों के उद्घाटन के पश्चात राजकीय विद्यालय में आयोजित जन सभा को संबोधित करते हुए कहा कि कैथल विधानसभा क्षेत्र को मिले एक मात्र माडल स्कूल की स्थापना भी ग्योंग गांव में की जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने शिक्षा में गुणवत्ता लाने के लिए विभिन्न क्षेत्रों में प्राईवेट स्कूलों की तर्ज पर माडल स्कूल खोलने का फैसला किया है। ग्योंग गांव में दो करोड़ रुपए की लागत से माडल स्कूल की स्थापना की जाएगी, ताकि बच्चों को गुणवत्ता परक शिक्षा उपलब्ध करवाई जा सके। उद्योग मंत्री ने गांव के विकास कार्यों के लिए 53 लाख रुपए से अधिक की धनराशि देने की घोषणा की। लोक निर्माण मंत्री ने राजकीय विद्यालय में कमरों के निर्माण के लिए 33 लाख रुपए देने की घोषणा की। इसके साथ-साथ उन्होंने गांव की विभिन्न 11 गलियों के निर्माण के लिए भी 13 लाख रुपए की धनराशि उपलब्ध करवाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि लगभग 17 लाख रुपए की लागत से गांव में विभिन्न विकास कार्य संपूर्ण किए गए हैं।उद्योग मंत्री ने कठवाड़ गांव में विभिन्न विकास कार्यों के लिए 78 लाख 80 हजार रुपए देने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि इस धनराशि से विभिन्न वर्गों की चौपालें, गलियां, राजकीय विद्यालय में कमरे आदि विकास कार्य संपन्न करवाए जाएंगे। उन्होंने राजकीय विद्यालय में एक कंप्यूटर रूम, आर्ट एंड क्रा ट तथा पुस्तकालय के निर्माण के लिए 15 लाख 55 हजार रुपए देने की घोषणा की। उन्होंने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि वर्तमान युग कंप्यूटर का युग है। इसलिए सभी बच्चों के लिए कंप्यूटर की शिक्षा ग्रहण करना अनिवार्य है। इसी को मद्देनजर रखते हुए विद्यालयों में कंप्यूटर उपलब्ध करवाए जा रहे हैं, जिनके रख-रखाव के लिए अलग से कमरों की व्यवस्था की जा रही है।इस अवसर पर अखिल भारतीय किसान खेत मजदूर कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री शमशेर सिंह सुरजेवाला ने जन सभा को संबोधित करते हुए कहा कि क्योडक़ गांव के लोगों से उनका गहरा लगाव रहा है। उन्होंने कहा कि गत दिनों धान की कीमतों में गिरावट का मुख्य कारण निर्यातक हैं। उन्होंने कहा कि निर्यातकों द्वारा जो धान विदेशों में भेजा गया था उसमें स्प्रे की गई कीटनाशकों की मौजूदगी पाई गई, जिसके परिणाम स्वरूप विदेशों ने भारत से भेजे गए धान को लेने से मना कर दिया और किसानों को भारी नुकसान उठाना पड़ा। उन्होंने कहा कि विदेशों में खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया जाता है और पूरी तरह से जांच के बाद ही खाद्य पदार्थाे को खरीदा जाता है। उन्होंने किसानों से अपील की कि वे ज्यादा से ज्यादा सं या में गन्ना लगाएं, क्योंकि धान की अपेक्षा गन्ने की फसल में ज्यादा मुनाफा है और कैथल सहकारी चीनी मिल भी हर तरह की सुविधाएं किसानों को उपलब्ध करवा रहा है।गांव क्योडक़ में जन सभा को संबोधित करते हुए सफिदों हलका के पूर्व विधायक एवं मंत्री बच्चन सिंह आर्य ने कहा कि यह कैथल हलका के लोगों का शोभाग्य है कि उन्हें रणदीप सिंह सुरजेवाला के रूप में कर्मठ व निष्ठावान विधायक मिला है। उन्होंने कहा कि रणदीप सिंह सुरजेवाला से पहले भी अनेक नेताओं ने इस क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया है। गत सात वर्ष के दौरान कैथल में चौधरी शमशेर सिंह सुरजेवाला तथा रणदीप सिंह सुरजेवाला द्वारा जितने विकास कार्य करवाए हैं वो एक रिकार्ड हैं और इससे पूर्व कोई भी नेता इस क्षेत्र में इतने विकास कार्य नही करवा पाया। उन्होंने इनैलो नेताओं पर कटाक्ष करते हुए कहा कि उन्होंने हमेशा जातिवाद, क्षेत्रवाद व झूठ की राजनीति को बढ़ावा दिया है, जिसका परिणाम स्वरूप गत दिनों हुए उप चुनावों में रतिया व आदमपुर के लोगों ने इनैलो को नकार दिया है तथा कांग्रेस पार्टी की नीतियों में विश्वास व्यक्त किया है।

 
 


 

 

 

 

 

 

 

Copyright 2011-2020 - Classic Computers.